HIndi Poems : अपने सीवा , बताओं कभी

तलाशियाँ ..


अपने सीवा , बताओं कभी
कुछ मीला भी  है तुम्हें ,
हज़ार बार ली है तुमने ,
मेरे दिल की तलाशियाँ ..

Comments

comments